गुड और चना खाने के फायदे – हमारे पूर्वजों के अनुसार

नमस्कार, हैलो फ्रेंड्स कैसे है? उम्मीद है आप सभी सवस्थ होंगे, मस्त होंगे। आप सभी का फिर से एक नई कॉन्टेंट में बहुत बहुत स्वागत है। आज हम जानेगे, गुड़ और चना खाने के फायदे क्या हैं?

gud aur chana khane ke nuksan

जानेगे, गुड़ और चना खाने के फायदे क्या हैं?

यानी की आपने हमारे बुजुर्गों को देखा होगा। जब भी हमारे बुजुर्ग गुड़ और चना एक साथ खाते हैं तो आपके मन में एक प्रश्न जरूर आता होगा कि इसके फायदे क्या होते हैं? और अगर आपने सुना है कही कही की ये खून बढ़ाने में मदद करता है,

ये हमारी स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है, स्वास्थ्य होता है तो यह जानकारी आपकी अधूरी है। मैं आप सभी को बताऊँगा कि चना और गुड़ खाने के महत्त्व क्या होते हैं और यह कैसे आपके शरीर के लिए अमृत के समान है।

आपने देखा होगा हमारे दादा, परदादा और उनके दादा इनकी उम्र जो होती थी 120 साल 150 साल। कई ऐसे थे जो 200 साल तक जीते थे और हमारी जो उम्र है इस जेनरेशन की जो उम्र हैं वो 60 साल, 70 साल, 80 साल ज्यादा से ज्यादा 90 साल ये इस जेनरेशन की जो उम्र है

, इसका कारण क्या है? आपको पता है सायद आप सभी को समझ में आ गया होगा कि हम खान पान की बात कर रहे हैं। अब खानपान से समझने का मतलब यह नहीं है की आप ज्यादा कलेस्ट्रॉल ले रहे हैं। आप ज्यादा फैटी चीजें खा रहे है, आप ज्यादा घूमते फिरते नहीं है, आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं?

ये सारी चीजें आपको पता है, लेकिन इसके साथ में कुछ हम ऐसी चीजों को भूलते जा रहे हैं। ऐसी चीजों को छोड़ते जा रहे हैं जो हमें विरासत में हमारे दादा परदादा देकर गए हैं।

विरासत में समझ रहे हो, जमीन जायदाद की बात नहीं कर रहा हूँ मैं मेरा कहने का मतलब केवल इतना है की जो चीज़े है हमारे दादा परदादा ओने उपयोग की थी,

वो चीजें आज हम भूलते जा रहे हैं उन्हें हम केवल एक दिखावे के लिए या कहें कि एक केवल बताने के लिए हम उनका केवल उपयोग करते हैं।

कहने का सीधा सा मतलब इतना है कि अगर “हम आज भी हल्दी वाला दूध पीएं, आज भी अगर हम गुड़ चना खाएं। आज भी अगर हम अच्छा घर का बना हुआ सत्तू अगर खाएं आज भी अगर हम चूल्हे की रोटी खाएं।”

आज भी अगर हम थोड़ी सी फिजिकल ऐक्टिविटी करें, फिजिकल मेहनत करें तो आज भी ये पॉसिबल हो सकता है की ये जो हमारी उम्र है वो 80 साल से 120 साल 150 साल तक जा सकती है।

गुड़ और चना खाने के क्या फायदे होते है। जैसे की मैंने आप सभी को बताया। हमारे दादा परदादा बहुत अच्छे तरीके से गुड़, चने का सेवन करते थे क्योंकि इसका एक जो कॉम्बिनेशन होता है इसके अंदर कुछ ऐसी प्रॉपर्टीज़ होती है जो हमारी ऑल ओवर हेल्थ के लिए बहुत इम्पोर्टेन्ट होती है।

सबसे पहला फायदा यह खून की कमी को पूरा करता है। अब आप कहेंगे यह तो हमें पता था। येस अब्सोलुटली पता था लेकिन आप करते नहीं है, आप खाते नहीं है, केवल आपने सुना था और आपने 2 दिन खाया।

3 दिन खाया, उसके बाद में भूल गए। ऐसा नहीं करना है। एनीमिया की कमी यानी की अगर आप 100 ग्राम गुड़ लेते है, बात समझ रहे है, 100 ग्राम गुड़ लेते है, उसके अंदर आपको 11 मिलीग्राम बात समझ रहे हैं।

11 मिलीग्राम आपको आइरन मिल जाता है। आपको ब्लड की जो कॉम्पोनेंट्स होते हैं वो मिल जाते हैं। अब अगर आप मान के चलिए 100 ग्राम गुड़ अगर हम डेली नहीं खाये, मान लीजिये आप डेली मत खाइए 7 दिन में एक बार भी खाये ना तब भी काफी हद तक आपकी खून की कमी पूरी हो जाएगी।

इवन खून कभी आपके बॉडी में कम नहीं होगा। दूसरी जो इसके बेनिफिट होते है वो होते हैं लिवर डिटॉक्सिफिकेशन यानी की अगर आपका लिवर डैमेज है, अगर आपका लिवर खराब है अगर आपका लिवर कमजोर है, अगर आपका लिवर वीक है आपके लिवर में कई सारे कॉम्प्लीकेशन्स की वजह से आपको कई सारी बीमारियां हो रही है

तो लिवर के लिए भी गुड़ का सेवन बहुत अच्छा माना जाता है और ये लिवर के अंदर टॉक्सिन्स को बाहर निकालता है। लिवर के अंदर जो लिवर को खराब करने वाले सेल्स हैं उनको कम करता है।

केमिकल्स को टॉक्सिन्स को बाहर निकाल देता है तो ये लिवर के लिए बहुत ज्यादा हेल्पफुल होता है। ये लिवर को डिटॉक्स करता है साथ ही साथ ये आपके ब्लड को प्यूरीफाई करता है।

आपने देखा होगा आजकल हम जो चीजें खा रहे हैं उनकी वजह से हमारा जो सिस्टम है हमारा जो ब्लड है वो इन्फेक्टेड होता जा रहा है। टॉक्सिन्स इसके अंदर होता जा रहा है तो ये हमारे ब्लड को भी साफ करता है।

साथ ही साथ यह हमारी इन्टेंस्टाइन कॉफी क्लीन करता है इसके अंदर जो टॉक्सिन्स होते हैं, बैक्टीरिया होते हैं। जो खराब बैक्टीरिया होते हैं, जो कॉन्स्टिपेशन को प्रोमोट करते हैं, उनके लिए भी यह रामबाण है।

इन्टेंस्टाइन को भी क्लियर करता है साथ ही साथ ही हमारे इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है। अब देखिये आपने केवल एक फायदा सुना था की गुड़ चना खाने से हमारा केवल ब्लड बढ़ता है

लेकिन ऐसा नहीं है भैया, इसके कई सारे फायदे होते हैं यहाँ पर इम्यून सिस्टम का जो रिस्पॉन्स है, यह इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करता है।

स्ट्रॉन्ग करता है राइट तो समझिएगा स्ट्रांग मतलब समझ रहे हैं कि आपके शरीर की जो प्रतिरक्षा तंत्र है उसे मजबूत अगर कर देगा तो आपके अंदर इन्फेक्शन नहीं आएँगे। आपके अंदर बीमारियां नहीं आएंगी।

छोटी मोटी बीमारियां तो आपके अंदर से बैसे ही खत्म हो जाएंगे। साथ ही साथ जिंन भी माताओं बहनों को मासिक टाइम पर होता है।

बहुत ज्यादा उनको पेन होता है, दर्द होता है तो ज्यादा जो प्रॉब्लम से महिलाएं, माता, बहनें गुजरती है, उसके लिए भी बहुत उपयोगी है तो मैं चल साइकल के टाइम पर। जिनको भी ज्यादा क्लेम होता है, पेट दर्द होता है, पेन होता है।

बहुत ज्यादा मस्कुलर पेन होता है। कई लोगों को कई फीमेल्स को तो उसके लिए बहुत ज्यादा उपयोगी है। अब मैंने यहाँ पर लोगों को बोल दिया है।

इसका मतलब यह नहीं कि मैं पुरुषों की बात कर रहा हूँ। मैं महिलाओं की बात कर रहा हूँ राइट क्योंकि आप में से कई लोग होंगे जिनका इनटेंशन चेंज हो जाता है।

कई बार अभी यहाँ पर इसके साथ में आप अपने के लिए भी बहुत उपयोगी इसको कर सकते हैं क्योंकि ये अस्थमा अगर लंग्स के अंदर 100 लिंग है उसमें भी बहुत अच्छा होता है तो ये जो गुड है उसके साथ में चने का जो कॉम्बिनेशन है, इसका बहुत बहुत ज्यादा बहुत अच्छे तरीके से आप बेनिफिटस ले सकते हैं और अपनी उम्र को भी बढ़ा सकते हैं 

क्योंकि जब भी हम नैचरल चीजें खाते हैं, देखिये आज कल हम क्या खा रहे हैं, फैट खा रहे हैं, कार्बोहाइड्रेट सबसे ज्यादा खा रहे हैं, सबसे ज्यादा कार्बोहाइड्रेट और फैट ले रहे हैं।

लेकिन आपको पता है इसके साथ में प्रोटीन की जरूरत होती है। जब आप प्रोटीन नहीं लेंगे तो आपका जो बॉडीबिल्डर हैं, वो कमजोर हो जायेगा, स्ट्रांग नहीं रहेगा, ठीक हैं, फैट से आप फूलते चले जा रहे हैं

कार्बोहाइड्रेट से आप फूलते चले जा रहे हैं जिस वजह से कई सारी बीमारियां बॉडी के अंदर आते जा रहे हैं। कई सारी बीमारियां शरीर के अंदर घुसती हुई चली जा रही है। ये बीमारियां

कॉम्प्लिकेशन्स बनाते चली जा रही है तो समझिएगा की कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन ऐंड फैट तीनों चीजें बहुत ज्यादा जरूरी है।

इन्हें माइक्रोनिडिल्स के अंदर हम रखते हैं तो चने और गुड़ का कॉम्बिनेशन एक ऐसा कॉम्बिनेशन है की चने के अंदर आपको प्रोटीन भरपूर मात्रा में मिल जाता है।

कुछ बिटामिन बहुत अच्छी मात्रा मिल जाती है और इसके अंदर गुड़ के अंदर आपको आइरन की अच्छी मात्रा मिल जाती है।

लिवर को उन डॉक्स कर देता है। आपके ऑल ओवर बॉडी को ईवन लगभग लगभग डिटॉक्स कर देता है, जिसकी मदद से आप की प्रोटीन का जो कॉम्बिनेशन होता है, प्रोटीन का जो काम करने का तरीका होता है वो उसका रास्ता क्लियर हो जाता है।

उसका रास्ता साफ हो जाता है जिसकी वजह से आपकी हेल्थ बहुत अच्छी बन जाती है। खून की कमी नहीं होती है, आपको थकान नहीं रहती है, आप एनर्जेटिक फील करते हैं। शरीर बिलकुल

फुल ब्लडेड लगता है जिससे कि शरीर के अंदर कुछ है, दम है, शरीर के अंदर ताकत है तो ये जो चीजे हैं ये हमें भूलना नहीं चाहिए।

मैं ये नहीं कह रहा हूँ की आप डेली खाइए, डेली मत खाइए। 5 दिन में ले लीजियेगा 7 दिन में ले लीजियेगा लेकिन चना जरूर खाएं ये अपडेट चने से बहुत इम्पोर्टेन्ट बेनिफिट आपको मिल सकते हैं।

चना हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है। चने का सेवन जरूर कीजियेगा अगर आप गुड़ का सेवन डेली नहीं करते हैं तो 5 दिन में एक बार या 7 दिन में एक बार चना और गुड़ का सेवन जरूर कीजियेगा

आप देखेंगे आपके शरीर के अंदर से काफी हद तक बिमारीयां ऑटोमैटिकली धीरे धीरे दूर भागती चले जाएंगे।

अगर आपको लगता है की यह कॉन्टेंट आप सभी के लिए हेल्पफुल हैं तो इस कॉन्टेंट को जरूर कॉमेंट कीजिए गा।

 

और अगर आपको लगता है ये कॉन्टेंट किसी और की हेल्प कर सकता है तो इस कॉन्टेंट को जरूर शेयर कीजियेगा।

 

एक छोटा सा इफ़ेक्ट कई सारी लोगों की बीमारियों को हल कर सकता है। कई सारे लोगों के कम्प्लेन्ट्स को कम कर सकता है।

 

कई सारे लोगों की मदद कर सकता है। दोस्तों में फिर मिलता हूं इसी प्रकार के हेल्पफुल किसी और कंटेंट में तो आप तब तक के लिए हेल्पिंग नेचर अपना बनाए रखे ।एक दूसरे

की हेल्प करते रहे, सहयोग करते रहे। यही एक जीवन का नियम है। थैंक यू सो मच हैव ए नाइस डे ।

Leave a Comment